नवका- पुरनका लेख सर्च करु...

दिल्ली मे हलचल



राहुल आओर राज के मामला पर दिल्ली के राजनीति सेहो गरमाएल रहल.   एहन पहिल बेर छल जे सभ राजनीतिक मतभेद के दूर राखि बिहार के सभ पार्टी के नेता एक संग अएलाह.  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व मे सभ पार्टी के नेता प्रधानमंत्री से भेंट कs  राज ठाकरे के खिलाफ सख्त कार्रवाई के मांग कएलखिन्ह.  एहि सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल मे लालू प्रसाद यादव आओर रामविलास पासवान सेहो शामिल छलाह.  सभ बिहारी नेता एक सुर मे प्रधानमंत्री के कहलखिन्ह जे देश केर एकता -अखंडता के तोड़य लेल राजठाकरे पर देश द्रोह के मामला चलाएल जाए.  एहि मुलाकात मे प्रधानमंत्री सं राष्ट्रीय एकता परिषद केर बैठक बुलाबय के 
सेहो मांग कएल गेल.  प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी नीक लोक छथिन्ह आओर भरोस देलखिन्ह जे एहि मामला पर जल्दीए कोनो नहि कोनो कार्रवाई कएल जाएत.  हुनकर सेहो कहनाय छलन्हि जे सरकार एहि मामला पर एकदम गंभीर अछि.   नीतीश जी राहुल मामला पर न्यायिक जांच के मांग सेहो कएलखिन्ह. एहि बारे मे जानकारी के लेल बिहार सरकार सीआईडी के एकटा डीआईजी महाराष्ट्र भेजत. 
                                           ओना शिवराज पाटिल त नहिं मुदा गृहराज्यमंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल जरूर एहि मामला पर  महाराष्ट्र सरकार सं रिपोर्ट देबय लेल कहलखिन्ह अ.  लालू जी कनि बेसिए गुस्सा मे छलाह ओ यूपी-बिहार के लोक के संग गुंडागर्दी करय लेल राज ठाकरे पर देशद्रोह के मुकदमा दर्ज करय के मांग करलखिन्ह.  लालूजी एहि मामला पर सभ नेता के एकजूट करय लेल नीतीश जीके धन्यवाद सेहो देलखिन्ह.  लोजपा नेता... खाद आओर स्टील  मंत्री रामविलास पासवान जी राज्य मे राष्ट्रपति शासन लगाबय के मांग कएलखिन्ह.  ओ कहबो कएलखिन्ह जखन बिहारी छात्र के घेर- घेर के पिटल जा रहल छल त पाटिल जी चुप छलाह आओर बेगुनाह छात्र केर हत्या पर बयानबाजी कs रहल छथि.  ओ राज के पार्टी के मान्यता खत्म करय के मांग सेहो कएलखिन्ह.
आओर जे होए प्रधानमंत्री सं ई भेंट बिहार केर राजनीति मे एकटा बड़का मोड़ अछि.  बिहार के विकासक मुद्दा पर सेहो अगर ई सभ नेता लोकनि एक संग आबि जएताह तं बिहार के आगां बढ़य सं कोई नहिं रोकि सकैत अछि.  आओर जखन बिहार आगां बढत त राज सं पंगा लेबय के जरूरते नहिं पड़त.  मुदा चुनावी साल मे राज ठाकरे वाला मुद्दा एहन अछि जे कोनो पार्टी ओकरा छोड़य नहिं चाहैत अछि.  कोनो पार्टी नहिं चाहैत अछि जे ओकरा पर बिहारी मुद्दा के अनदेखी केर आरोप लगय.  तs राजनीतिक मजबूरी भने होए एक संग त अएलौं.


3 comments:

  1. आपको दिवाली की हार्दिक शुभकामनायें।
    अभी अपना व्यावसायिक हिन्दी ब्लॉग बनायें।

    ReplyDelete
  2. दीपावली पर हार्दिक शुभकामनाएँ। दीपावली आप और आप के परिवार के लिए सर्वांग समृद्धि और खुशियाँ लाए।

    ReplyDelete

अहांक विचार/सुझाव...