नवका- पुरनका लेख सर्च करु...

अपन MLA - MP सं कहिऔ ममता सं मिलय लेल

नवका साल अएला के बाद रेल मंत्रालय बजट बनाबय के तैयारी मे लागि गेल अछि. मंत्रालय के अधिकारी सभ एहि लेल विभिन्न क्षेत्रक लोक... जानकार... उद्योगपति... पार्टी सभ सं विचार-विमर्श करय मे लागि गेल छथिन्ह.

पिछला बजट मे रेल मंत्री ममता बनर्जी जी बिहार के एकदम सं अनदेखी
करलीह. बजटक बेसि ट्रेन बंगाल के देल गेल... बिहार के बस झुनझुना थमा देल गेल.

बिहार भ क दुरंतो ट्रेन दनदना क भागि जाएत अछि. अपना सभ देखते रहि जाएत छी. दिल पर सांप जकां लोटि जाएत अछि. ममता जी बिहार के संग ई कोन जन्म केर दुश्मनी निकाललीह से नहि कहि सकय छी.

एहि के लेल अपन सभक प्रतिनिधि सभ सेहो कम जिम्मेदार नहि छथिन्ह. ओ समझय छथिन्ह जे ममता जीके सपना अएतन्हि आ ओ दरभंगा... कटिहार... सीतामढ़ी आओर भागलपुर के लेल नवका ट्रेन द देतीह.

ऐना नहि होएत अछि. एहि के लेल अहां के रेल मंत्री सं मिल क हुनका सं अपन-अपन इलाका के लेल नवका-नवका ट्रेनक मांग करय पड़त... रेल लाइन बिछाबय के आग्राह करय पड़त.

अगर अहां चाहय छी जे किछ ट्रेनक विस्तार होए... फेरा बढ़ाएल जाए... नवका ट्रेन मिलय त अपन कष्टक संग रेलमंत्र सं मिलु... नहि त परेशानी... कष्ट मने मे रहि जाएत. एहि बेरक बजट सेहो चलि जाएत आओर फेर ममता जीके कोसैत रहब.

पिछला बेर नहि मिलल त जरूरी नहि अछि जे एहि बेर सेहो नहि मिलत. अहां सभ अपन-अपन एमएलए...एमपी जीके हुरकाबिऔ... दुत्कारिऔ... गुहराबिऔ... जेना होए हुनका कहिऔ जे ममता जी सं एहि-एहि ट्रेनक मांग करु.

लोक के उम्मीद कहिओ नहि छोड़बाक चाही. बिहारक... मिथिलाक जतेक सांसद छथिन्ह... जतेक एमएलए छथिन्ह हुनका सभ के अहां अगर जागरूक करबन्हि... अगर अहां हुनका सभ के एहि लेल रेल मंत्री सं मिलय लेल
कहबन्हि... त भ सकैत अछि पांच-सातटा मांग मे सं दू-चारिऔटा त मानतीह.

अगर एहिना करैत-करैत पांच-सातटा सांसद के मांग मानि लेल गेल त कइटा ट्रेन... कइटा स्टेशनक कायाकल्प भ जाएत. अखने समय अछि ट्रेनक मांग के लsक धरना- प्रदर्शन जे करय के होए करु.

दुरंतो... गरीब रथ... युवा एक्सप्रेस... सम्पर्क क्रांति... मेल... एक्सप्रेस ... सुपरफास्ट...दस तरहक ट्रेनक लिस्ट...अपन परेशानी के विवरण के संग ममता जीक पास भेजु.

ट्रेनक मांग के लेल साल भरक धरना-प्रदर्शक ओतेक फायदा नहि होएत जतेक कि अखन करला स होएत. अपन-अपन इलाका के प्रमुख लोक सभ के सेहो एहि लेल आगां आबय लेल कहिऔं.

अपन-अपन MP-MLA पर प्रेशर
बनाउ. हुनका सभ के कहिऔ एना काज नहि चलत एहि बेर ममता के पास अपन लिस्ट जरूर दिऔ. हुनका पर मांग मानय लेल प्रेशर बनाउ.

नहि त फेर कोन चिंता... जेना अखन चलैत छी चलैत रहुं...भीड़-भाड़ मे धक्का खाएत रहुं... कन्फर्म टिकट लेल महीना... महीना धरि इंतजार करैत रहुं. पाई रहितो सीट पर नहि जाए के लेल विवश रहुं.

Share/Save/Bookmark 
हमर ईमेल:-hellomithilaa@gmail.com

No comments:

Post a Comment

अहांक विचार/सुझाव...