नवका- पुरनका लेख सर्च करु...

मौत पर लोक खामोश किएक?

दिल्ली मे लक्ष्मीनगर के ललिता पार्क इलाका मे मकान गिरय सं 67 लोक मारल गेलाह. 80 लोक घायल छथिन्ह. अखनो धरि पूरा मलबा साफ नहि भेल अछि. एहि सं आशंका अछि जे किछ लोक आओर फंसल होताह.

इमारत गिरय सं मारल गेल लोक मे बेसि बिहार आओर बंगाल दिस के छथिन्ह. मारल गेल 67 लोक मे सं त 32 टा त सिर्फ बिहार सं छथिन्ह. ओहि मे सभ सं बेसि सहरसा सं.

ई सभ लोक बिहार सं रोजगार के तलाश मे दिल्ली आएल छलखिन्ह आओर अपन पूरा परिवार के संग एहिठाम रहय छलखिन्ह. दिल्ली...एनसीआर मे मकान आओर मकान भाड़ा एतेक बेसि बढ़ि गेल अछि जे लोक के मजबूरी मे एहन मकान मे रहय पड़ैत अछि.

मुदा बिहार चुनाव मे हरदम बिहारी लोक के परेशानी दूर करय के बात करय वाला दिल्ली के कांग्रेसी सरकार के अधिकारी आओर मंत्री सभ एहि मकान के कमजोरी पर ध्यान नहि देलक.

जखन कि मकान मालिक के साफ कहनाय छनि जे ओ एकरा बारे मे दिल्ली के शहरी विकास मंत्री के बता देने छल. सरकार एहि के लेल आब एमसीडी पर पाला झारय अछि त एमसीडी सरकार पर.

मानि लिअ मारय वाला मे बेसि लोक बिहार छोड़ि दोसर राज्य के रहैत त कि एहने मामला शांत भ गेल रहैत. दू -दू लाख के मुआवजा दs क. देश के राजधानी दिल्ली मे एहन बड़का कांड होए आओर सरकार बस मुआवजा दsक बचि जाए.

एहि सं किछ दिन पहिने पूर्वोत्तर मे सेहो बिहारी... हिंदीभाषी लोक के मारल गेल. बस दू चारि लाइन के खबर आबि क इतिश्री भ गेल. दोसर के त छोड़ु बिहारी नेता सभ सेहो बस दू -चारिटा बाइट द शांत भ गेलाह.

एहि सभ के कारण बिहारी लोक महाराष्ट्र मुम्बई मे मारि खाए छथि... राज्य सं बाहर भैया...बिहारी कहि के पुकारल जाएत छथि. आवाज नहि उठाएब... प्रतिरोध नहि करब त लोक अहां के नहि सुनत.

ललिता पार्क वाला मामला के देखिऔ सरकार मामला के दबाबय मे लागल अछि. आखिर एहन स्थिति आएल केना? कि ओ आओर इलाका के सैकड़ों दोसर मकान एक दिन मे आ राइतो-राति बनि गेल.

जे मकान मे बिजली-पानि सभ सुविधा देलिअई ओकरा अहां कहैत छी जै ओ अवैध छै. आखिर पुलिस... अधिकारी... मंत्री... विधायक एतेक दिन तक किएक चुप बैसल रहलाह? किएक सुतल रहलाह?

मुदा सभ सं अजगुत वाला गप ई अछि जे एतेक लोक के मारल गेलाह के बादहुं लोक सभ खामोश छथिन्ह. मीडिया के हाल सेहो एहने अछि. बस दू चारिटा खबर देखा देलहुं...काज खत्म.

आब देखिऔ एहि मकान के गिरला के बाद सरकार कइटा आओर मकान के खतरनाक घोषित करि देलक अछि आओर खाली करा रहल अछि. मुदा खाली करि रहल लोक के रहय के कोनो खास वैकल्पिक व्यवस्था नहि कएल गेल अछि.

एहि जाड़ मे इलाका के हजारों बिहारी लोक के सामने रोटी-रोटी संग-संग रहय के समस्या ठाड़ भ गेल अछि. लोक अपन अपन सामान निकालि मकान के बाहर रहल लेल विवश छथिन्ह.

अगर कोनो जगह सरकार के नहि मिलैत अछि त नवका बनल खेलगांव त बगले मे अछि सरकार किएक नहि किछ दिन के लेल हिनका सभ के ओहि ठाम रहय के इंतजाम करैत अछि.

ओना एहि मामला पर अंन्तर्राष्ट्रीय मैथिली परिषद के कृपाननंद जीक तरफ सं शनि दिन दिल्ली के कॉफी हाउस मे एकटा बैसार राखल गेल अछि. एहि मे आगां के रणनीति पर चर्चा करताह. मुदा तखन धरि काफी देर भ गेल रहत.
Share/Save/Bookmark 
हमर ईमेल:-hellomithilaa@gmail.com

No comments:

Post a Comment

अहांक विचार/सुझाव...