नवका- पुरनका लेख सर्च करु...

बिहार से छीनो, बंगाल को दो...


पिछला लेख मे हम अहां के कहने छलहुं जे बिहार सं रेल इंजन निर्माणक दु टा परियोजना आब बंगाल जा सकैत अछि.
एहि पर नई दुनिया मे एकटा स्पेशल स्टोरी आएल अछि. लेख अछि ममता के एजेंडे मे बिहार से छीनो. बंगाल को दो नई दुनिया के एहि विशेष स्टोरी के अनुसार ममता बनर्जी आई-काल्हि कोलकाता मे बैसि बजट बनाबय के तैयारी मे लागल छथीह आओर एकर घोषणा आबय वाला रेल बजट मे भs सकैत अछि. एहि बारे मे एकटा खबर पहिनहुं बिजनेस के प्रतिष्टित साइट www.livemint.com मे सेहो आएल छल. आओर जखन हम एहि पर बिहार के झटका लिखलहुं त लोक सभ कहय लगलाह अहां अनेरो बात के तूल द रहल छी. अगर ई तूल देनाय छै त बैसल रहुं मुंह छिपा कs. खेलैत रहुं ताश आओर मारैत रहुं गप. ममता बनर्जी जकां नेता अहां के एहि आलस्यपन के फायदा उठा सभ प्रोजेक्ट अपना ठाम लs जएताह. तखन हाथ मलैत रहब. आबो जागु नहिं त सुतले कि आओर जागले कि वाला हाल भs जाएत. अपने जागु आओर अपन एमपी सभ के सेहो जगबिओन्हि. दूनु परियोजना कि शिफ्ट करय के खिलाफ अभियान चलाउ. अपन राय राखु... अपन विरोध जताउ.

11 comments:

  1. इसकी जितनी निंदा की जाए कम है । बिहार के सभी लोगों को इसका विरोध करना चाहिए ।

    ReplyDelete
  2. अहांक कहनाय एकदम ठीक अछि । बिहार के संग ऐना कतेक दिन तक चलैत रहत। असल मे एकरा पाछां जे सभसं पैघ कारण अछि ओ अछि बिहार के सभ दल मे एकजुटता नहि होनाए। कम सं कम विकास के नाम पर त सभ गोटे के एक होबाक चाही ।

    ReplyDelete
  3. Ye Bihar ke saath anyay hai. Mamtajee ko chahiye isko Bihar me hee rahne dein aur West Bengal ke liye kuchh naya lekar aayein. Vaise Vahan Chitranjan ka karkhana to pahle se hain hee.

    ReplyDelete
  4. Apan vichaar raakhai lel ahan sabh ke dhanyawad. ehina likhait rahu

    ReplyDelete
  5. ये बदले की राजनीति है...अभी तक कुछ राज्यों में देखा जाता रहा है कि चुनाव जीतकर कुर्सी संभालते ही नया मुख्यमंत्री अपने विरोधियों को ठिकाने लगाने में जुट जाता है...ममता बनर्जी का कदम ठीक वैसा तो नहीं है...तकरीबन उसी जैसा है...लेकिन इसमें मारी जाएगी आम जनता...लगे हाथ ममता कांग्रेस को भी नुकसान पहुंचा रही हैं...अगर वाकई ममता ऐसा करती हैं...तो बिहार के लोग कांग्रेस को सबक सिखा देंगे...लोक सभा चुनाव भले ही दूर हो...लेकिन विधान सभा चुनाव ज्यादा दूर नहीं है...

    ReplyDelete
  6. namaskar, hitendra ji,
    BIHAR SE CHHINO-BANGAL KO , samachar padhalau,padhla baad hamra vo din yaad ayal ELECTION s,a pahile ahan ekta mahatvapurna SAWAL uthhaine rahi je LOK-SABHA chonaw me NITISH ji ke jitla s,a BIHAR ke fayda rahat ki LALOO ji ke jitla s,a. tahi par bahut PATHAK-GAN ahan,k bat ke virodh kayane chhalah,aai ahan,k SAWAAL ke matalab shayad BIHAR ke janta lokain bujhi gel hoyta.Bahut afsos hoit achhi je apna RAJYA-BIHAR me akhano niji hitt ke lel sochai-wala byakti ke sankhya jyada achhi, SAMAJ aa RAJYA,DESH ke lel kam.
    takhan t,a ahan aur ahank HELLO MITHILA KE TEAM lagatar BIHAR s,a jural MUDDA uthabait rahait chhi tahik lel ahan DHANYAWAD ke sath-sath PRASHANSHA ke seho patra chhi.
    PRABANDHA

    ReplyDelete
  7. Arre, bahut badhiya, Hitendra ji! Kya baat hai, Janab! Mazaa aa gaya aapka ye desi Mythilli blog dekh kar! I'm following your blog, now on, through Google Friend Connect. Safalta se blog likhte rahein aur hum sub ke saath share karte rahein! Aapko saadhuwaad!

    SHRINATH VASHISHTHA
    PORT BLAIR
    ANDAMAN & NICOBAR ISLANDS (India).

    ReplyDelete
  8. Waah, Gupta ji!
    Kya baat hai! Maza aa gaya, janaab, aapka ye desi Mythilli blog dekh kar. Keep blogging and sharing with us. I'm, now, following your blog through Google Friend Connect! My best wishes to you! Cheers!


    SHRINATH VASHISHTHA
    PORT BLAIR
    ANDAMAN & NICOBAR ISLANDS (India).

    ReplyDelete
  9. जिसकी लाठी उसकी भैंस...लालू यादव इस फार्मूले को गाहे बगाहे अपनाते रहे हैं...लेकिन अब दाव थोड़ा उल्टा पड़ गया है...चुनावों में हार के बाद मंत्रालय भी छिन गया...और उनका मंत्रालय तेज तर्रार और जुझारु ममता बनर्जी को मिला है...अब ममता को अर्जुन की तरह हर बात के लिए अपना इलाका नजर आ रहा है...अब लालू यादव के सामने एक बड़ी चुनौती यह है कि अगर बिहार का कोई रेल प्रोजेक्ट बंगाल ले जाया जाता है...तो लालू यादव विरोध इतने जोरदार ढंग से दर्ज करा पाएंगे कि ऐसे मंसूबे कामयाब न होने पाएं...क्या लालू यादव इस मुद्दे पर पार्टी लाइन से अलग हटकर बिहार के सांसदों को लामबंद कर पाएंगे...कम से कम लालू के लिए तो फिलहाल ये एक बड़ी चुनौती है...

    ReplyDelete
  10. SHRINATH VASHISHTHA jee...Ahank bahut bahut dhanyawad...ahanke Hello Mithilaa neek laagal ee suni man prasann bha gel... hum dekhlaun ahan hello mithilaak follower seho bani gelaunh a ehi lel dhanyawad

    ReplyDelete
  11. Har Bharateeya ko Andaman Nicobar dweep samuh ke darshan zaroor karne chahiye, kam-se-kam ek baar...Aap kab aa rahe hain, Janaab?

    Aur aapne hamaara ANDAMAN & NICOBAR THE HISTORIC INDIAN CORAL ISLANDS blog dekha ya nahin? Aapko saari jaankaariyaan milengi in dweepon ke baare me...

    ReplyDelete

अहांक विचार/सुझाव...