नवका- पुरनका लेख सर्च करु...

मिथिलाक विकास : चुनौती आ संभावना

दिल्ली के हंसराज कॉलेज मे रवि दिन 25 जनवरी के अखिल भारतीय मिथिला नवनिर्माण मंचक उद्घाटन समारोह होबय वाला अछि. एहि समारोह मे 'मिथि्लाक समग्र विकास : चुनौती आओर संभावना' विषय पर चर्चा...विचार विमर्श कएल जाएत. समारोह के अध्यक्षता करताह डॉ सतीश चन्द्र झा जी. सतीशजी प्रधानमंत्री के आर्थिक सलाहकार आओर बिहारक विकास लेल बनल योजना आयोग विशेष कार्यदल के अध्यक्ष सेहो छथिन्ह. समारोह कॉलेज के सेमिनार हॉल मे डेढ़ बजे दिन मे शुरू होएत. एहि समारोह मे मिथिलाक पैघ-पैघ लोक सेहो रहताह... जेहि मे इतिहासकार आओर शिक्षाविद् प्रो डी एन झा... पूर्व सांसद डॉ गौरीशंकर राजहंस... मधुबनी के सांसद आओर केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री शकील अहमद... राज्यसभा सांसद प्रभात झा... दैनिक जागरण अखबार के मुख्य महाप्रबंधक निशिकांत ठाकुर... लेखिका मृदुला सिन्हा... पूर्व पुलिस अधिकारी आमोद कंठ... मौथिली भोजपुरी अकादमी के उपाध्यक्ष डॉ अनिल मिश्र... एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार... दिल्ली के विधायक महाबल मिश्र आओर विधायक अनिल झा शामिल छथिन्ह. समारोह के बारे मे कोनो तरहक जानकारी के जरूरत होए त अहां लोकनि अखिल भारतीय मिथिला नवनिर्माण मंच के अध्यक्ष डॉ रणजीत कुमार मिश्र सं सम्पर्क कs सकैत छी... हुनकर नंबर छनि- 098915-98277 आओर 099688-73110
समारोह भs रहल अछि नीक बात अछि. मुदा एकटा बात देखबा मे आबि रहल अछि जे जहिआ सं मैथिली संविधान के आठवीं अनुसूची मे शामिल भेल अछि आओर मैथिली- भोजपुरी अकादमी बनल अछि... मैथिल सभ एकजुट होए के जगह बंटल जा रहल छथि. एहि बीच कइटा गुट बनि गेल अछि. कोनो गुट दिल्ली मे बैसार करय छथिन्ह त कोनो चेन्नई मे... त कोनो मधुबनी मे. सभ एकजुट होए के जगह अपन -अपन... अलग- अलग रास्ता अपनैने छथिन्ह. एकटा अलग पार्टी सेहो बनि गेल... लोक सभ कन्फ्यूज भs रहल छथिन्ह. कइटा लोक त एहन छथि जिनका मैथिली सं कोनो लेना देना नहिं रहलन्हि. मुदा मंच बनल...पद मिललन्हि त कुर्सी पकड़ि लेलाह. ई सभ जे होय एहि मंच सं नीक के उम्मीद करबाक चाही... ई उम्मीद करबाक चाही जे एहि मंच सं सही मायने मे मिथिलाक विकासक काज होएत. अहां सभ एहि समारोह मे पहुंचु... मुदा एकटा बातक ध्यान राखब जे अगिला दिन गणतंत्र दिवस के परेड अछि दिल्ली मे एहि लेल कनि सवेरे निकलब आओर अपन गाड़ी सं अएला पर सभ कागज पत्तर राखि के चलब जेही सं कोनो दिक्कत नहिं होए.

2 comments:

  1. maithili ke vikash me sabse bade badhak mithilanchal aur maithili ke nam par politics karne wale hain..
    jab bhi elections aate hai alag mithilanchal pradesh ki baat ki jati hai ..mai puchna chahta hoon jab kosi nadi me barh aayi thi to ye neta kaha the..
    mahabal mishra ya anil jha dilli wale ho gaye hai ..

    ReplyDelete
  2. डी.एन,झा जीक नाम देखि क' खुशी भेल, हमर मामागामक छथि, मुदा गाम 50 बरखसँ छोड़ने छथि। प्रतिष्ठित मार्क्सवादी इतिहासकारक विचारसँ ई संस्था अवश्य लाभ उठाएत।

    ReplyDelete

अहांक विचार/सुझाव...