नवका- पुरनका लेख सर्च करु...

कृषि कार्यशाला

दरभंगा में औषधीय, सुगंधीय पौधा... फूलक खेती... मखाना और मछली पालन पर एकटा कार्यशाला भेल. एकर आयोजन नाबार्ड के सहयोग सं मिथिलांचल इंडस्ट्रियल चेंबर ऑफ कॉमर्स कएलक. कार्यशाला में किसान सभ सं कहल गेल जे पारम्परिक खेती के संग- संग वैज्ञानिक खेती पर सेहो जोर देल जाय. किसान सभ के कहल गेल जे अगर ओ जेट्रोफा... मखाना के खेती वैज्ञानिक तरीका सं करताह त हुनका अखन जतेक कमाई होई छन्हि... ओहि सं चारि-पांच गुना बेसि कमाई भS सकय छनि. एहि कार्यशाला में किसान सभ के खेती सं कमाई बढाबय के तरीका सेहो बतायल गेल. ओना पहिला लोक सभ पारम्परिक रूप सं जे खेती कय अएलाह अ तकरे करनाय नीक बुझय छथिन्ह मुदा नवका लोक सभ... युवा किसान सभ में वैज्ञानिक तरीका सं खेती करय के जागरूकता आएल अ. ओ रेडियो... टीवी... अखबार सं जानकारी लय खेती कय पैदावार बढ़ा रहल छथिन्ह. एहि के लेल ओ कृषि वैज्ञानिक सभ सं सेहो मिलय छथिन्ह. ओना एहि कार्यशाला में किसान सभ के एकटा सुझाव ई देल गेल कि अगर ओ अपन आस पास के किसान सभ के संग मिलजुलि के खेती करताह ... ग्रुप बनाSक खेती करताह त पैदावार के बेचय में ओतेक दिक्कत नहिं आयत. तखन व्यापारी सामान खरीदय लेल खुद हुनका पास अयताह. आ ओ अपन दाम पर हुनका सामान बेचि सकय छथिन्ह.

2 comments:

  1. अपनेक जानकारी सराहनीय. गृहस्थ लोकनि कतेक फायदा उठबैत छथि तकरे चिन्ता अछि

    ReplyDelete
  2. अपनेक जानकारी सराहनीय. गृहस्थ लोकनि कतेक फायदा उठबैत छथि तकरे चिन्ता अछि

    ReplyDelete

अहांक विचार/सुझाव...