नवका- पुरनका लेख सर्च करु...

आब खरीदु शेयर...

सोमवार के एतिहासिक गिरावट के बाद मंगल के सेहो बाजार में भारी गिरावट जारी रहल. बाजार के बेसि गिरला के कारण सर्किट सेहो लगाबय पड़ल. एहि में ई होय छै जे बाजार अगर एक बेर में 10 फीसदी सं ज्यादा गिरय छै त कारोबार एक घंटा के लेल रोइक देल जाय छै. दिन भर सेंसेक्स... निफ्टी में भारी उतार चढ़ाव देखल गेल. मंगल के दिन लाखों लोक के लेल अमंगलकारी साबित भेल. कतेक लोक कंगाल भ गेलाह... जिंदगी भर के लाखों रुपया के जमा पूंजी स्वाह भ गेलनि. चारु कात हाहाकार मचि गेल. लोक सड़क पर उतरि गेल. बीजेपी के नेता वित्त मंत्री सं इस्तीफा देबय के मांग करय लगलाह. पार्टी के कहनाय छल जे पिछला दिन जहि तरह सं बाजार तेजी सं बढ़ल अ ओहि सं बाजार पर सट्टेबाज के कब्जा भ गेल अ. आओर सेबी आई जे ई जांच के आदेश देलक अ ओ ओकरा पहिने देबाक चाहि छल जखन बाजार ऊपर गेल छल.
मुदा प्रधानमंत्री आओर वित्त मंत्री दुनु गोटे लोक के भरोसा देलथिन्ह जे देश के अर्थ व्यवस्था काफी मजबूत अछि आओर उतार चढाव बाजार के अंग अछि. अगर बाजार उपर जा रहल अछि त कहिओ नीचा सेहो आ सकय अछि. एहि स्थिति में लोक के संयम सं काज लेबाक चाही. समझदारी दिखयबाक चाही. ई नहिं कि भीड़ के भेड़चाल के हिस्सा बनि गेलहुं. भीड़ जिम्हर भागल ओम्हर भागय लगलहुं. धैर्य सं काज लिअ. सभ जे काज करय छथिन्ह से नहिं करु. अहां के ई सोचि ते चलय पड़त जे बाजार में अगर फायदा छै त नुकसान सेहो छै. हर चीज के दुनु पक्ष होय छै.
अहां के इहो सोचि ते चलय पड़त जे बाजार में जे मजबूत कंपनी छै... आई खूब फायदा द रहल छै ओकरो शेयर गिर सकय छै... ओ सेहो अहां के तबाह कय सकय अ. एहि लेल सावधानी जरूरी छै. एम्हर जे महीना दस दिन... साल में बाजार में तेजी आयल अ... शेयर बाजार में हरियाली दिखल अ. ओकरा देखैत लोक सभ ज्यादा सं ज्यादा पाई शेयर बाजार में लगाबय लगलाह अ. चाय- पान दोकान सं लs क दलान तक... सभ तरफ शेयर बाजार आओर एहि सं आबय वाला पैसा के चर्चा होय लागल छल. जे शेयर बाजार में पाई नहिं लगयने छलाह हुनका लगैत छलैन्हि जे एहि दुनिया में सभ सं बुड़बक ओहि छथि.... जे शेयर में एकोटा पाई नहिं लगौने छथि. ई खतरनाक स्थिति अछि. जखन चाय पान या बूट-पालिस करय वाला अहां के पाई लगाबय के सलाह देबय लगय स संभलि जाउ. कहनाय छै न नीम हकीम खतरे जान.
अमीर बनय के सपना देखय छी नीक अछि... सभ के सपना देखबाक चाहि... आखिर देखब नहिं त पूरा केना करब. मुदा शेयर बाजार के मार्फत रातों रात अमीर बनय के सपना देखनाक बुड़बकय होयत. ई जुआ नहिं अछि जे पासां फेंकलहु आ जीतला पर राज जीत गेलहुं. आ हारला पर सभस प्रिय चीज के सेहो हारी गेलहुं. समझदारी सं काज लिअ. कखनो उम्मीद सं बेसि लाभ के उम्मीद नहिं करु. एकरा धंधे रहय दिअउ... एकरा सट्टा... जुआ में तब्दील नहिं करु. कतेक लोक कर्ज ल Sक... सभ किछ बेचकय शेयर बाजार में पैसा लगौने छथि आई हुनकर हाल जाSक सुनिऔ. माथ पर हाथ देने छथिन्ह.
आब जे भेल से भेल... संभलि क कदम उठाउ. एम्हर ओम्हर सं मिलय वाला के सलाह पर काज नहिं करु. जीवन भर के कमाई संभलि कय निवेश में लगाउ. म्यूचुअल फंड में पाई लगानाय सही होय छै मुदा म्यूचुअल फंड सेहो बाजार सं जुड़ल छै... ताहि लेल जोखिम बनल रहय छै... बाजार के गिरय के असर एहि पर सेहो पड़य छै. एकरा सं बचय के एकेटा उपाय अछि. हर महीने एकटा फिक्स रकम जमा कएल करु... एकरा अहां एसआईपी या सिस्टमेटिक इंवेस्टमेंट प्लान सेहो कहि सकय छी. अहां के एकटा अनुशासन बना के चलय पड़त. ई नहिं जे एके बेर में सभ पाइ बाजार में लगा देलौं. धीरे-धीरे... एकटा रकम तय क लिअ ओकरा हर महीने दु- चारि टा नीक म्यूचुअल फंड में लगा दिअ. एसआईपी में ई फायदा होय छै जे अगर बाजार नीचा रहल त अहां के शेयर ज्यादा मिलत आ बाजार उपर रहल त शेयर के यूनिट कम मिलत... ई सारा कारोबार यूनिट में होय छै. त बाजार के गिरला सं एहि पर बेसि असर नहिं पड़य छै. अगर नीक फंड छै त नीक फायदा देत. मुदा बेसि लोभ नहिं करु. सोना के हिरण वाला कहानी सुनने छी कि नहिं. त रियलिस्टिक बनल रहुं. उड़य के कोशिश नहिं करु नहिं त धम्म स गिरि पड़ब.
ओना एहि गिरावट सं अहां फायदा सेहो उठा सकय छी. अहां अगर बाजार के जानकार छी... किछ किछ नजर रखय छी त अहां देखि सकय छी जे... ई हफ्ता जे बाजार में गिरावट आयल अ तं ओहन शेयर सेहो गिरल अ जकरा अहां खरीदय त चाहय छलहुं मुदा दाम बेसि होबाक कारणे नहिं खरीदय छलहुं. अखन मजबूत फंडामेंटल वाला... मजबूत कंपनी के शेयर सेहो कम दाम पर मिलि रहल अछि. अखन अहां ओकरा कम दाम पर खरीद कS फायदा उठा सकय छी. बाजार जखन बढ़त त ओकरा में सुधार आयत.... आओर तखन अहां अखन भेल नुकसान के भरपाई कय सकय छी या फायदा उठा सकय छी. मुदा जेना कहबाक छै एकय टोकरी में सारा अंडा नहिं ऱखबाक चाही... तहिना एकय शेयर में सभ पाई नहिं लगाउ. दु- तीन टा नीक शेयर देख पाई लगाउ. बाजार में त उतार चढाब लागल रहय छै. मुदा अहि में जे पाई कमा लैत अछि सेहे छथि असल खिलाड़ी आओर असल खिलाड़ी बनय लेल अहां के नियमित रुप सं निवेश करय के आदत बनाबय पड़त. नीक नीक दु चारि टा शेयर के चुनाव करय पड़त. ज्यादा समय तक पाई लगाबय पड़त यानी अहां के दीर्घ अवधि के लेल पाई लगाबय पड़त. समय समय पर ई देखय पड़त जे ओ शेयर केहन रिजल्ट द रहल अछि. ओहि में बनल रहनाय नीक रहत की नहिं. आओर सभस महत्वपूर्ण बात ई कि किछ पाई दोसरो ठाम लगाउ... शेयर बाजार सं हटि कय. आकस्मिक फंड के रुप में ओ फिक्सड डिपोजिट... बैंक... इंश्योरेंस... सोना... जमीन जायदाद किछ भ सकय अ. त जे भ गेल ओकरा बिसरि आगां देखु आओर नव उत्साह के संग बाजार में उतरि जाउ.

No comments:

Post a Comment

अहांक विचार/सुझाव...